सच्चाई मे है दम,इसलिए सच लिखते हैं हम
 अगोरी बालू साइडों पर प्रशासन व खान विभाग की छापेमारी, मचा हड़कंप

अगोरी बालू साइडों पर प्रशासन व खान विभाग की छापेमारी, मचा हड़कंप

 अगोरी बालू साइडों पर प्रशासन व खान विभाग की छापेमारी, मचा हड़कंप     


                                                                      सोनभद्र। ई-टेंडरिंग की कुछ साइटों पर सीमा से आगे बढ़कर नदी एरिया में खनन करने तथा काश्तकारी परमिट वाली साइटों पर पट्टे वाली जगह की बजाय, सोन तथा कनहर नदी में उतर कर खनन करने की शिकायत पर, नापी होने तक, बालू खनन पर रोक लगा दी गई है। इन शिकायतों को लेकर बुधवार को कई साइटों पर छापेमारी किए जाने से हड़कंप मच गया। अगोरी एरिया के खंड चार, आसपास में नापी करने के साथ ही, खंड एक और खंड दो की एरिया में घुसकर काश्तकारी परमिट की आड़ में खनन की मिली शिकायतों पर भी नापी की कार्यवाही की जाती रही। 

गत मंगलवार को दो पट्टाधारक भी काश्तकारी परमिट की आड़ में, उनके लिए आवंटित एरिया में घुसकर खनन किए जाने की शिकायत लेकर डीएम के पास पहुंचे तो हड़कंप मच गया। इसको गंभीरता से लेते हुए डीएम टीके शिबू के निर्देश पर जिला खान अधिकारी जेपी द्विवेदी की अगुवाई में प्रशासन और खान महकमे की संयुक्त टीम बुधवार की दोपहर जुगैल थाना क्षेत्र के बालू साइटों पर धमक पड़ी तो खननकर्ताओं में हड़कंप मच गया। हालांकि खनन करा रहे लोगों को टीम के पहुंचने की भनक पहले ही लग गई और खनन कार्य में लगी मशीनें आदि हटा ली गईं, इससे मौके पर खनन कार्य तो होता नहीं मिला लेकिन सीमा क्षेत्र तथा उसके आसपास हुए खनन की नापी शुरू करा दी गई। जिला खनन अधिकारी जेपी द्विवेदी ने बताया कि खंड चार की नापी करीब-करीब पूरी कर ली गई है। खंड एक और खंड दो के पास हुए खनन की भी नापी कराई जा रही है। इसी तरह, अन्य साइटों पर भी हुए खनन की नापी कराई जाएगी। जहां कहीं मानक से अधिक, मानकों की अनदेखी कर और निर्धारित सीमा क्षेत्र से बाहर निकलकर खनन करने की शिकायत मिलेगी, वहां-वहां संबंधित पट्टा धारक को नोटिस जारी कर पेनाल्टी तथा अन्य कार्यवाही की जाएगी। फिलहाल नापी/सीमांकन की प्रक्रिया पूरी होने तक बालू खनन पर रोक लगा दी गई है।

0 Response to " अगोरी बालू साइडों पर प्रशासन व खान विभाग की छापेमारी, मचा हड़कंप "

Post a Comment